स्कूल वाले ज़माने

खबर पढ़ी चेन्नई में स्कूल टीचर ने स्टूडेंट को थप्पड़ मारने के कारण 50000 रुपए का भुगतान करना पड़ा।
अगर हमारे स्कूल वाले ज़माने में ये रिवाज होती तो मेरे साथ हुई कुटाई के बदले में मेरे पास भी आज

4- 6 फ्लैट होते।
2 - 4 बड़ी गाडिया
फार्महाउस और स्विस बैंक में मेरा खुद का खाता होता
[ आधा बचपन तो साला इसी कन्फ्यूजन में बीत गया कि

समबाहु, विषमबाहु और समद्विबाहु त्रिभुज के नाम हैं या राक्षसों के!

स्कूल में जब पहली बार
पता चला साइकोलॉजी की स्पेलिंग
c से या s से नहीं बल्कि p से शुरू
होती है,.....
कसम से उसी दिन से
अंग्रेजी से भरोसा टूट सा गया था


एक लड़की रोज सुबह 10 बजे पेड़ की
डाल पर बैठ जाती,
और
शाम को 5 बजे उतर जाती
.
...
.....
.......
........

mba करके पागल हो गई थी
खुद को ब्रांच मैनेजर समझती थी..


 Category : Hindi   Posted By : Sanjay   on 2015-07-01 07:27:51

Ads

Related Post

blog comments powered by Disqus

Login


May I Know You

  • System » Unknown
  • Browser » Unknown
  • IP Address » 54.198.126.110
  • 4 Online