Openplus Desi Jokes Portal

POST COUNT - 1840

मानवता हमारा धर्म है | Wish

एक आम आदमी सुबह जागने के बाद सबसे पहले टॉयलेट जाता है, बाहर आकर साबुन से हाथ धोता है, दाँत ब्रश करता है, नहाता है, कपड़े पहनकर तैयार होता है, अखबार पढता है, नाश्ता करता है, घर से काम के लिए निकल जाता है..... बाहर निकलकर रिक्शा करता है, फिर लोकल बस या ट्रेन पकड़कर ऑफिस पहुँचता है, वहाँ पूरा दिन काम करता है, साथियों के साथ चाय पीता है, शाम को वापिस घर के लिए निकलता है । घर के रास्ते में एक सिगरेट फूँकता है, बच्चों के लिए टॉफी, बीवी के लिए गजरा लेता है, मोबाइल में रिचार्ज करवाता ह...

Read More

परिवार से अलग होने पर हमारी कीमत | Others

आज एक नई सीख़ मिली जब अँगूर खरीदने बाजार गया ।पूछा "क्या भाव है?बोला : "80 रूपये किलो ।"पास ही कुछ अलग-अलग टूटे हुए अंगूरों के दाने पडे थे ।मैंने पूछा: "क्या भाव है" इनका ?"वो बोला : "30 रूपये किलो"मैंने पूछा : "इतना कम दाम क्यों..? वो बोला : "साहब, हैं तो ये भी बहुत बढीया..!! लेकिन ... अपने गुच्छे से टूट गए हैं ।"मैं समझ गया कि अपने... संगठन...समाज और u परिवार से अलग होने पर हमारी कीमत......आधे से भी कम रह जाती है।कृपया अपने परिवार एवम् मित्रो से हमेशा जुड़े...

Read More

गीता में श्रीकृष्ण ने कहा है | Wish

ये जो कुल्फी खाते हुये एक हंथेली कुल्फी के नीचे लगाये रहते हो ना...इसे ही गीता में श्रीकृष्ण ने मोह बताया है. orऔर कुल्फी खतम होने के बाद भी जो डण्डी चाटते ही रहते हो ना....इसे ही गीता में श्रीकृष्ण ने लोभ कहा हैऔर डण्डी फेकने के बाद , सामने वाले की कुल्फी देखकर सोचना कि उसकी खत्म क्यों नहीं हुई,इसे गीता मे ईष्या कहा गया है,  और कुल्फी खतम होने से पहले डऩ्डी से नीचे गिर जाये और केवल डण्डी हाथ मे रह जाये तब तुम्हारे मन में जो आता है....        &nbs...

Read More

पत्नियों का विकास क्रम | Hindi

पत्नियों का विकास क्रम:1960 में:पति: एक कप चाय...!पत्नी पहले से लिए खड़ी मिलती थी...!------------------1970 में :पति: एक कप चाय...!पत्नी: अभी लाई जी...!------------------1980 में:पति: एक कप चाय...!पत्नी: लाती हूँ...!------------------1990 में:पति: एक कप चाय...!पत्नी: ला रही हूँ...! थोडा सब्र रखो...!------------------2000 में:पति: एक कप चाय...!पत्नी: लाऊंगी...! अभी सीरियल म...

Read More

तेरे आने से पहले | Funny

एक अजीब सी हालत है तेरे जानेके बाद..!भूक ही नहीं लगती खाना खानेके बाद..!मेरे पास 8 समोसे थे , जो मेनेखा लिए1 तेरे आने से पहले 7 तेरे जाने केबाद..!नींद ही नहीं आती मुझे सोने केबाद..!नज़र कुछ नहीं आता आँखें बंद होनेके बाद..!डॉक्टर सेजो पूछा इसका इलाज..!देकर 4 टेबलेट्स , बोला -खा लेना 2 जागने se पहले ,2 सोने के बाद..!!गौर फरमाइएअर्ज़ किया है -महफ़िल में हमारे जूते खो गएतो हम घर कैसेजायेंगे..?महफ़िल में हमारे जूते खो गएतो हम घर कैसेजायेंगे..?किसी ने कहा - आपशायरी तो शुरू कीजिये..!इतने म...

Read More

कंजूस बनिया 100 रुपये आखिर 100 रुपये होते है | Hindi

कंजूस बनिया और उसकी पत्नी एक मेले मेंगए।वहां एक हेलीकाप्टर आया हुआ था, जो मेलेका चक्कर लगवाने के 100 रुपये लेता था।बनिया हेलीकाप्टरकी सवारी नहीं करना चाहता था, परउसकी बीवी करना चाहती थी ।बनिया : तू पांच मिनट की सवारी करके कोनसा रानी बन जाएगी, 100 रुपये आखिर100 रुपये होते है।पत्नी फिर भी जिद कर रही थी, औरबनिया बार-बार यही कहे जा रहा था की:समझा कर, 100 रुपये आखिर 100रुपये होतेहै यारउनकी बातचीत पायलट ने सुन ली वो बोला।पायलट: सुनो मैं तुम लोगो से कोईपैसा नहीं लूँगा, लेकिन शर्त येहोगी की सवारी के दोरान तुम दो...

Read More

खुशियों का घड़ा | Hindi

जिस प्रकार पाप का घड़ा भरते ही मनुष्य की मृत्यु हो जाती है उसी प्रकार खुशियों का घड़ा भरते ही शादी हो जाती है...

Read More

I love you drama | Flirt

girl - yaar mujhe aapse kuch kehna hai boy - haan bolo girl - yr aap mujhe bhul jao.. boy- what??? pagal ho gae ho tum?? yeh kya bol rahi ho,? mei tumhare bina kaise rahunga yeh socha bhi hai tumne??...

Read More

आमने-सामने जब बात | Hindi

लड़कों और लड़कियों की दोस्ती में ये हैं फर्क दो लडकियां आमने-सामने जब बात करती हैं। पहली - हाए स्वीटहार्ट। दूसरी - हाई , मेरी शोना , आई मिस यू। ... और दोनों एक दूसरे के बारे में पीठ पीछे बोलती हैं... पहली - अरे वो एक नंबर की नकचढ़ी हैं, घमंडी हैं। दूसरी - मैं तो उसे भाव ही नहीं देती , शक्ल से बंदरिया लगती हैं . . जब 2 लड़के जब आमने सामने बात करते हैं। पहला - कैसा हैं कमीने , लाल शर्ट में तो बन्दर लग रहा हैं बे। दूसरा - अपने बाप से मजाक करता हैं साले। ... और दोनों एक दूसरे के ...

Read More

आपका हर दिन शुभ हो | Wish

अगर ग्लास दूध से भरा हुआ है तो,आप उसमे और दूध नहीं डाल सकते.लेकिन आप उसमें शक्कर डाले तो,शक्कर अपनी जगह बना लेती है ...और अपना होने का अहसास दिलाती है.उसी प्रकार,अच्छे लोग हर किसी के दिल में,अपनी जगह बना  लेते हैं .....दो चम्मच हँसी और चुटकी भर मुस्कान,बस यही खुराक है, ख़ुशी की पहचान.आपका हर दिन शुभ हो...

Read More

निशुल्क दवा की आपूर्ति | हरकचंद सावला | Others

करीब तीस साल का एक युवक मुंबई के प्रसिद्ध टाटा कैंसर अस्पताल के सामने फुटपाथ पर खड़ा था। युवक वहां अस्पताल की सीढिय़ों पर मौत के द्वार पर खड़े मरीजों को बड़े ध्यान दे देख रहा था, जिनके चेहरों पर दर्द और विवषता का भाव स्पष्ट नजर आ रहा था। इन रोगियों के साथ उनके रिश्तेदार भी परेशान थे। थोड़ी देर में ही यह दृष्य युवक को परेशान करने लगा। वहां मौजूद रोगियों में से अधिकांश दूर दराज के गांवों के थे, जिन्हे यह भी नहीं पता था कि क्या करें, किससे मिले? इन लोगों के पास दवा और भोजन के भी पैसे नहीं थे।टाटा कैंस...

Read More

अछे दिन कब आएँगे | Political

लोग पूछ रहे है अछे दिन कब आएँगे "अच्छे दिन कब आएंगे"?भाई जब अच्छे दिनों का इंतज़ार नहीं कर सकते तो बुरे दिन लाये ही क्यों थे?इस बात पर मुझे एक कहानी याद आ रही है, आपसभी के साथ साझा करते हैं......बन्दरों की एक टोली थी, उनका एक सरदार भी था.बन्दर फलो के बग़ीचों मे फल तोड़ कर खाया करते थे, माली की मार और डन्डे भी खाते थे पिटते थे।एक दिन बन्दरों के सरदार ने सब बन्दरों से विचार विमर्श कर निश्चय किया कि रोज माली के डन्डे खाने से बेहतर है कि हम अपना फलों का बग़ीचा लगा ...

Read More

शादी कर लो | Hindi

श्रीमती जी की रात के दो बजे अचानक नींद खुली तो पाया कि पति बिस्तर पे नहीं है।जिज्ञासावश उठीं, खोजा,...तो देखा डाइनिंग टेबल पर बैठेपति जी कॉफीका कप हाथ में ले कर,विचारमग्न, दीवार को घूर रहे हैं।पत्नी चुपचाप पति को कॉफी की चुस्की लेते हुए बीच-बीच में आँख सेआँसू पोंछते देखती रही।फिर पति के पास गई और बोलीं, “क्या बात है, डियर? तुम इतनी रातगए यहाँ क्या कर रहे हो..?”पति जी ने कॉफी से नज़र उठाई। “तुम्हें याद है, 14 साल पहले जबतुम सिर्फ 18 साल की थीं?”पति बड़ी गम्भीरता से बोला..।पत्नी पति...

Read More

Professor ने अपने छात्र से पुछा | Others

सन् 1902 में, एक professor ने अपने छात्र से पुछा.... क्या वह भगवान था, जिसने इस संसार की हर वस्तु को बनाया? छात्र का जवाब : हां । उन्होंने फिर पुछा:- शैतान क्या हैं? क्या भगवान ने इसे भी बनाया ? छात्र चुप हो गया... .....! फिर छात्र ने आग्रह किया कि- क्या वह उनसे कुछ सवाल पुछ सकता हैं? professor ने इजाजत दी. उसने पुछा-क्या ठण्ड होती हैं ? professor ने कहा: हां, बिल्कुल क्या तुम्हे यह महसुस नहीं होती? student ने कहा: मैं माफी चाहता हुं सर, लेकिन आप ग...

Read More

स्वागत मानसून | Sayeri

कल तक उड़ती थी चेहरे पर** आज पैरों से लिपट गयी** चन्द बूँदें क्या बरसीं बरसात की** धूल की फ़ितरत ही बदल गयी**** ***स्वागत मानसून***...

Read More